Categories
क्या चल रहा है अभी?

क्या आपने बांस से बने बिस्किट खाये हैं? 18 सितंबर- ‘विश्व बांस दिवस’ पर पढ़िये ये खास पेशकश

बांस का फर्नीचर तो आपने कितना ही देखा होगा या अपने घर में इस्तेमाल भी करते होंगे, लेकिन क्या बांस के बने बिस्कुट देखे हैं? पू्र्वोत्तर के राज्य त्रिपुरा में विश्व बांस दिवस  के अवसर पर बांस के बने हुए बिस्कुट लॉन्च हुए हैं और खुद राज्य के मुख्यमंत्री बिप्लब देव जी ने इसे लॉन्च किया है। बांस के बने ये बिस्कुट दिखने में तो बेहद स्वादिस्ट लग रहे हैं और चखने के लिए फिलहाल त्रिपुरा जाना होगा। लेकिन हो सकता है कि आने वाले दिनों में यह बिस्कुट अपनी नायाब गुणों की वजह से देश और दुनिया के अलग-अलग कोनों में पहुंच जाएं।

विश्व पटल पर पहचान दिलाने में मिलेगी मदद

त्रिपुरा के मुख्मंत्री ने शुक्रवार को बांस के बने बिस्कुट तो लॉन्च किए साथ में बांस की बनी बोतल में शहद का पैक भी जनता के सामने प्रस्तुत किया। त्रिपुरा सहित पूर्वोत्तर के अधिकतर राज्यों में बांस रोजमर्रा के इस्तेमाल की बहुत सामान्य वस्तु है और इसे फर्नीचर से लेकर खाने तक में इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन बांस के बने बिस्कुट के बारे में पहली बार सुनने और देखने को मिला है। राज्य सरकार अपने यहां बनने वाले बांस के उत्पादों को देश और दुनियाभर में नया मुकाम दिलाने के लिए लगातार काम कर रही है।

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देव के OSD संजय मिश्रा ने मुख्यमंत्री बिप्लब देव की बांस के बिस्कुट के साथ तस्वीर साझा की है। संजय मिश्रा ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि ‘अब बांस से बने बिस्कुट खा सकेंगे आप! विश्व बांस दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री बिप्लब कुमार देब ने बांस से बने बिस्कुट लांच किया। साथ ही उन्होंने बांस से बने बोतल में शहद का पैक भी जनता के सामने प्रस्तुत किया। राज्य सरकार बांस के उत्पादों को नया मुकाम देने के लिए प्रतिबद्ध है।’

क्या है वर्ल्ड बम्बू डे (World Bamboo Day) अथवा विश्व बांस दिवस: 18 सितंबर

World Bamboo Day हर साल 18 सितंबर को विश्व स्तर पर वर्ल्ड बम्बू डे अथवा विश्व बांस दिवस के रूप में मनाया जाता है। यह दिन बांस के फायदों के बारे में जागरूकता बढ़ाने और रोजमर्रा के उत्पादों में इसके उपयोग को बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है। WBD 2020 के 11 वें संस्करण की थीम ‘BAMBOO Now‘ है।

क्या है इस दिन का इतिहास?

विश्व बाँस संगठन द्वारा 18 सितंबर को वर्ल्ड बम्बू डे को मनाए जाने की आधिकारिक घोषणा 2009 में बैंकाक में आयोजित 8 वीं वर्ल्ड बम्बू कांग्रेस में की गई थी। विश्व बाँस संगठन का इस दिन को मनाने का उद्देश्य प्राकृतिक संसाधनों और पर्यावरण की रक्षा के लिए बाँस की क्षमता को और अधिक उन्नत बनाना, स्थायी उपयोग सुनिश्चित करना, दुनिया भर के क्षेत्रों में नए उद्योगों के लिए बांस की नई खेती को बढ़ावा देना, साथ ही सामुदायिक आर्थिक विकास के लिए स्थानीय रूप से पारंपरिक उपयोगों को प्रोत्साहित करना है।

विश्व बांस संगठन मुख्यालय एंटवर्प, बेल्जियम में है। इसकी स्थापना 2005 में की गयी थी। इसके कार्यकारी निदेशक सुज़ैन लुकास हैं।

By Ishan Krishna

Part Time Editor...Full Time Engineer!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *